Motivational Quotes in Hindi | प्रेरक उद्धरण का हिंदी संग्रह

Motivational-Quotes

Motivational Quotes in Hindi

“मनुष्य जाती के शैशव की मानसिक दुर्बलताओं और उस से उत्पन्न मिथ्या विश्वासों का समूह ही धर्म है, यदि उस में और भी कुछ है तो वह है पुरोहितों, सत्ता-धारियों और शोषक वर्गों के धोखे-फरेब, जिस से वह अपनी भेड़ों को अपने गल्ले से बाहर नहीं जाने देना चाहते”।
~राहुल सांकृत्यायन

“युद्ध दरअसल एक ऐसा धंधा है जिसमें कोई भी व्यक्ति कतई सम्मान के साथ नहीं रह सकता”।
~निकोलो मैकियावेली

“अगर किसी के भीतर शोषितों व पीड़ितों को न्याय दिलाने का जज्बा नहीं है तो उसे अपने हाथों में कलम कभी नहीं थामनी चाहिए।”

~गणेशशंकर विद्यार्थी

“पत्रकारों के जानने की सबसे जरूरी बात यह है कि पत्रकारिता कोई पेशा नहीं बल्कि जीवन मूल्य है।”

~गणेशशंकर विद्यार्थी

“अगर आपको जीवन का वास्तविक आनन्द चाहिए तो आपके पास जो कुछ भी है, उसी में सुखी रहना सीख लीजिये।”

~गौतम बुद्ध

“महानता कभी न गिरने में नहीं, अपितु हर बार गिर कर उठ जाने में है”।
~कन्फ़्यूशियस

“धन को जेब तक ही सीमित रखना चाहिए। उसे हृदय में स्थान देने से लालच , भेदभाव और बुराइयों का जन्म होता है”।
~गुरुनानक

“प्रसन्नता को जितना लुटाइए, वह उतनी ही आपके पास आती है”।
~विक्टर ह्यूगो

“अगर हम भाइयों कि तरह मिलकर रहना नहीं सीखेंगे तो मूर्खों कि तरह लड़कर बरबाद हो जाएंगे”।
~मार्टिन लूथर किंग जूनियर

“वैचारिक स्वतन्त्रता के बगैर बुद्धि जैसी कोई चीज़ हो ही नहीं सकती। जैसे बोलने की स्वतन्त्रता के बगैर जनता की स्वतन्त्रता नहीं हो सकती”।
~बेंजामिन फ्रैंकलिन

“सफलता की कुंजी अपने चेतन मन को उन चीज़ों पर केन्द्रित करने में है, जिन्हें हम चाहते हैं, न कि उन पर जिनका हमें भय है”।
~ब्रायन ट्रेसी

“अपने Comfort Zone से बाहर निकलिए। आप तभी Grow कर सकते हैं, जब कुछ नया Try करने में अजीब और असहज़ महसूस करने को तैयार हों”।
~ब्रायन ट्रेसी

“धार्मिकता पिछड़ेपन का ठप्पा है। किसी समाज में दिमागी पिछड़ापन जितना ज्यादा होगा, वहाँ धार्मिक प्रवृत्तियां उतनी ही मजबूत होंगी”।
~एम॰ एन॰ रॉय

“जो तर्क की अनसुनी कर देते हैं, वे कट्टर हैं, जो तर्क कर ही नहीं सकते, वे मूर्ख और जो तर्क का साहस ही नहीं दिखा पाते,वे गुलाम हैं”।
~नेपोलियन विलियम ड्रमंड

“अगर कोई आपसे निजी स्वार्थ साधने कि कोशिश करता है तो बुरा मत मानिए। खुश होइए कि आप ऐसे हैं, जिसे वह उपयोगी मानता है”।
~अब्राहम लिंकन

“दरिया बनकर किसी शख्स को डुबाने से बेहतर है कि जरिया बनकर किसी को डूबने से बचाया जाए”।
~जोश मलीहाबादी

“समाज में रहकर समाज को हानि पहुंचाना और आत्महत्या कर लेना दोनों एक जैसी चीजें हैं”।
~शरतचंद्र

“मनुष्य को अपनी मुक्ति के लिए ख़ुद जतन करने पड़ते हैं। दूसरों पर निर्भर रहने से उसे कुछ भी हासिल नहीं होता”।
~महावीर