Pustak | पुस्तकें मनुष्य के सपनों और उन्हें पूर्ण करने की राह बनती हैं।

Pustak

विश्व के महान लोग अपनी उपलब्धियों के लिए किताबों (Pustak) को सर्वोपरि रखते हैं, किताबें मनुष्य के सपनों और उन्हें पूर्ण करने की राह बनती हैं। जहां किताबों का स्वप्निल संसार बसता है वहीं बदलाव व जीवन का आनंद छिपा है। कहते हैं कलामय जीवन की राह किताबों से होकर निकलती है। अच्छी किताबों के संग जीने वाले कभी हारते नहीं, बल्कि असली इंसान बनकर समाज का पथ प्रदर्शन करते हैं। (Pustak) किताबों से जीवन बोलता है और जीने के हौंसले बुलंद होते हैं।

“Good friends, good books, and a sleepy conscience: this is the ideal life.”

― Mark Twain

महान लोगों का जिक्र करें तो रूस के साहित्यकार Maxim Gorky (अलेक्सी मैक्सिमोविच पेशकोव) किताबों को मनुष्य का सबसे बड़ा दोस्त मानते थे। गोर्गी के विश्वप्रसिद्ध उपन्यास ‘The Mother‘ मन को आनंदित कर देता है।

किताबें करती हैं बातें…

किताबें करती हैं बातें
बीते ज़मानों की
दुनिया की, इन्सानों की
आज की कल की
एक-एक पल की।
खुशियों की, गमों की
फूलों की, बमों की
जीत की, हार की
प्यार की, मार की।

सुनोगे नहीं क्या
किताबों की बातें?

किताबें, कुछ तो कहना चाहती हैं
तुम्हारे पास रहना चाहती हैं।
किताबों में चिड़िया दिखे चहचाहती,
कि इनमें मिले खेतियां लहलहाती।
किताबों में झरने मिले गुनगुनाते,
बड़े खूब पारियों के किस्से सुनाते।
किताबों में साइंस की आवाज़ है,
किताबों में रॉकेट का राज है।
हर इक इल्म की इनमें भरमार है,
किताबों का अपना ही संसार है।

क्या तुम इसमें जाना नहीं चाहोगे?
किताबें कुछ तो कहना चाहती हैं,
तुम्हारे पास रहना चाहती हैं!

यदि आपको महज़ मनोरंजन चाहिए,
महज़ नशे की एक ख़ुराक,
दिल को बहलाने के लिए एक ख़्याल

तो नहीं है ऐसी किताब हमारे पास।

हम ऐसी किताब लेकर आये हैं
जो आपकी मोहनिद्रा झकझोर कर तोड़ दे,
जो आज के हालात पर
आपको सोचने के लिए मज़बूर कर दे।

हम किताबें नहीं
लड़ने की जिद
और हालात की बेहतरी की उम्मीदें
लेकर आयें हैं,

हम आने वाले कल के सपने लेकर आये हैं।
हम लेकर आये हैं
एक सार्थक, स्वाभिमानी, मुक्त जीवन की तड़प।

किताबें नहीं
हम असली इंसान की तरह
जीने का संकल्प लेकर आये हैं।


Download Free Hindi E-book

  1. जोसेफ़ स्टालिन – एक जीवनी