Other Link | There is more like us !

Other-Link-There-is-more-like-us

Tarksheel Bharat क्या कहता है?

  • शुरुआत – 5 अक्तू॰ 2011
  • सदस्य – 2.89 लाख
  • देखे जाने की संख्या – 1,54,96,957

हमारे चारों ओर दिन रात चलता धर्म का माहात्म्य टीवी पर चलते अविवेकी धारावाहिक फिल्म और विज्ञापनों द्वारा दिन रात चलता अंधविश्वास का प्रचार यह सब मिलकर समाज की सम्यक बुद्धि को नष्ट करने के लिए पर्याप्त हैं ऐसे में तार्किकता वैज्ञानिकता और बौद्धिकता की बातें समाज में कैसे स्थापित हो? इस बात पर सभी वैज्ञानिक सोच रखने वाले साथियों को चिंतन करना चाहिए।

समाज में वैज्ञानिकता के साथ मानवतावाद की स्थापना के लिए आवश्यक है कि हम अपने सीमित संसाधनों के बावजूद अपने अपने स्तर पर पहल जरूर करें।

हम सबके छोटे-छोटे प्रयास एक दिन अवश्य ही “सत्यमेव जयते” की अवधारणा को सत्य साबित कर देंगे। “तर्कशील भारत” चैनल समाज में व्याप्त धार्मिक जाहिलियत को विज्ञान और तर्क के प्रकाश से दूर करने का मेरा छोटा सा प्रयास है।

MANAS Live क्या कहता है?

  • शुरुआत – 2 नव॰ 2017
  • सदस्य – 23.1 हज़ार
  • देखे जाने की संख्या – 11,414

आओ मिलकर युग बदलें… हम सभी लोग कल तक एक दूसरे से अनजान थे, सोशल मीडिया ने न जाने कितने समविचारी लोगों को एक दूसरे से जोड़ दिया है सोशल मीडिया के अलग-अलग धरातल पर मिले वैचारिक रिश्ते खून के रिश्तों से कहीं ज्यादा मजबूत और टिकाऊ हो चुके हैं लेकिन ये रिश्ते तभी सार्थक माने जा सकते हैं जब हम इन नवीन संबंधों को सोशल मीडिया की वर्चुअल दुनिया से उतार कर जमीनी स्तर पर ले आएं और धरातल पर कुछ परिवर्तन की शुरुआत करें जो साथी मानवतावादी विचारधारा को जमीनी हकीकत बनाने का ख्वाब देखते हैं वे मानव नवनिर्माण संघ (मानस) से जुड़ सकते हैं।

Shakeel Prem क्या कहते हैं?

  • शुरुआत – 3 फ़र॰ 2019
  • सदस्य – 23.2 हज़ार
  • देखे जाने की संख्या – 10,43,128 लाख

सत्य प्रेम और परिवर्तन की ओर एक छोटा सा प्रयास…

Nastik Bharat क्या कहता है?

  • शुरुआत – 7 जन॰ 2019
  • सदस्य – 273
  • देखे जाने की संख्या – 3,349

तर्क, तथ्य और अनुभव की बात !